Connect with us

Chandra Grahan 2022: ज्योतिष शास्त्र की गणना के मुताबिक 16 मई सोमवार को लगेगा चंद्र ग्रहण

धर्म

Chandra Grahan 2022: ज्योतिष शास्त्र की गणना के मुताबिक 16 मई सोमवार को लगेगा चंद्र ग्रहण

Chandra Grahan 2022 Upay: चंद्र ग्रहण जहां एक खगोलीय घटना है वहीं सूर्य का राशि परिवर्तन ज्योतिष में बहुत महत्वपूर्ण घटना मानी जाती है. अगले 2 दिनों में ये घटनाएँ होने वाली हैं. जहां साल 2022 का पहला चंद्र ग्रहण 16 मई दिन सोमवार को लगेगा. वहीँ सूर्य का राशि परिवर्तन चंद्र ग्रहण से ठीक एक दिन पहले यानी 15 मई को होगा. ज्योतिषविद सूर्य के इस राशि परिवर्तन को बहुत अहम मान रहे हैं. ज्योतिषाचार्यों के अनुसार चंद्र ग्रहण से ठीक पहले होने वाले इस सूर्य गोचर इन तीन राशि (मिथुन, तुला और वृश्चिक) के जातकों को परेशानी में डाल सकते हैं. इस लिए इन तीन राशियों को ये उपाय करने चाहिए. जिससे सूर्य देव उनसे प्रसन्न रहें है और उनकी कृपा मिलती रहे.

मिथुन राशि: सूर्य गोचर से मिथुन राशि वालों को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. इनके अंदर ऊर्जा की कमी हो सकती है. भाई-बहनों के साथ विवाद संभव है. आर्थिक समस्या हो सकती है.

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड की छवि हो रही खराब सरकार संज्ञान में ले, चार धाम रूट पर हो रही खुली लूट

तुला राशि: इन्हें आर्थिक मोर्चे पर परेशानियों का सामना करना पडेगा. प्रॉपर्टी में निवेश नुकसान कर सकता है. इस दौरान नया व्यापार न शुरू करें तो उचित रहेगा.

वृश्चिक राशि: वृश्चिक राशि के जातक अपने क्रोध पर नियन्त्रण रखें. जीवन साथी के रिश्ते ख़राब हो सकते हैं. अनचाही लंबी यात्रा कर सकते हैं. आर्थिक समस्या हो सकती है.

यह भी पढ़ें -  Weather Update: पर्वतीय इलाकों में तेज तूफानी हवा और बारिश से मिलेगी राहत, अगले 4 दिन ऐसा रहेगा मौसम

करें ये उपाय

सूर्य को प्रसन्न करने के लिए कम से कम 12 रविवार के व्रत (Ravivar Vrat) रखें.

रविवार के दिन स्नान के बाद लाल वस्त्र धारण करें. ओम ह्रां ह्रीं ह्रौं स: सूर्याय नम: मंत्र (Surya Mnatra) का जाप 3, 5 या 12 माला जाप करें.

रविवार के दिन सुबह स्नान के बाद साफ जल में लाल चंदन, लाल फूल, अक्षत और दूर्वा मिलाकर सूर्य देव को जल अर्पित करें.

यह भी पढ़ें -  Champawat by election: 20 मई से निर्मला गहतोड़ी के प्रचार में उतरेंगे हरीश रावत

रविवार के दिन स्नान के बाद लाल वस्त्र धारण करें. ओम ह्रां ह्रीं ह्रौं स: सूर्याय नम: मंत्र (Surya Mnatra) का जाप 3, 5 या 12 माला जाप करें.

रविवार के दिन सुबह स्नान के बाद साफ जल में लाल चंदन, लाल फूल, अक्षत और दूर्वा मिलाकर सूर्य देव को जल अर्पित करें.

रविवार के दिन नमक का सेवन न करें.

भोजन में दलिया, दूध, दही, घी, चीनी, गेहूं की रोटी का सेवन करें.

इन जातकों को लाल और पीले रंग का वस्त्र, गुड़, सोना, तांबा, माणिक्य, गेहूं, लाल कमल, मसूर दाल, गाय आदि का दान करना चाहिए.

Continue Reading
Click to comment
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

More in धर्म

Like Our Facebook Page

Latest News