Connect with us

डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया का मदन कौशिक को 4 जनवरी को ‘केजरीवाल माॅडल बनाम त्रिवेंद्र रावत माॅडल’ पर खुली बहस के लिए लिखा पत्र

आम आदमी पार्टी

डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया का मदन कौशिक को 4 जनवरी को ‘केजरीवाल माॅडल बनाम त्रिवेंद्र रावत माॅडल’ पर खुली बहस के लिए लिखा पत्र

आज आम आदमी पार्टी के प्रदेश कार्यालय में आप उपाध्यक्ष रजिया बेग और आप प्रवक्ता संजय भट्ट ,राकेश काला ने एक प्रेस वार्ता के दौरान ,आप के वरिष्ठ नेता और दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के मदन कौशिक के साथ होने वाली डिबेट की जानकारी देते हुए कहा,मनीष सिसोदिया जी आगामी 3 जनवरी को देहरादून पहुंच रहे हैं और 4 जनवरी को देहरादून के आइआरडीटी ऑडिटोरियम में उनको डिबेट के लिए आमंत्रित किया है जिसके बाद उनको दिल्ली मॉडल पर डिबेट और दिल्ली के विकास को दिखाने के लिए उन्हें , 6 जनवरी को दिल्ली भी आमंत्रित किया है ।

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री एवं शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने उत्तराखंड के शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक को पत्र भेजा है जिसमें उन्होंने , 4 जनवरी को सुबह 11 बजे देहरादून के आईआरडीटी आँडिटोरिया में ‘केजरीवाल माॅडल बनाम त्रिवेंद्र रावत माॅडल’ पर खुली बहस के लिए निमंत्रण दिया है। साथ कहा कि मैं दिल्ली के कार्यों पर चर्चा के लिए आपको 6 जनवरी को दिल्ली आने के लिए निमंत्रित करता हूं, मैं आपको केजरीवाल सरकार द्वारा सरकारी स्कूलों, अस्पताल, बिजली, पानी, महिला सुरक्षा और ईमानदार राजनीति आदि के क्षेत्रों में हुए अभूतपूर्व कार्य को दिखाउंगा। डिप्टी सीएम ने कहा कि उत्तराखंड के लोगों के लिए इससे अच्छा कुछ और नहीं हो सकता कि वे अपने वर्तमान और भावी नेताओं को स्कूल, अस्पताल, बिजली, पानी आदि मुद्दों पर खुली बहस करता देंखे और उसी आधार पर अपने मताधिकार का प्रयोग करें। मेरे संज्ञान में यह बात सामने आई है कि त्रिवेंद्र रावत सरकार ने पिछले 4 साल में उत्तराखंड के लोगों के लिए कोई उपयोगी काम नहीं किया है। लोग उनका परिचय ‘जीरो वर्क सीएम’ कह कर देते हैं।

यह भी पढ़ें -  Big news :-उत्तराखण्ड में 7 नई हेली सेवाओं का शुभारम्भ* *सीएम पुष्कर सिंह धामी और केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने किया फ्लैग ऑफ

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री एवं शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने उत्तराखंड सरकार के शहरी विकास मंत्री श्री मदन कौशिक को पत्र लिखा है। उपमुख्यमंत्री ने नववर्ष की शुभकामनाएं देते हुए पत्र में कहा है कि मुझे यह जानकारी बेहद खुशी हुई कि आप त्रिवेंद्र रावत सरकार द्वारा उत्तराखंड के लोगों के हित में किए गए शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली, पानी, रोजगार, महिला सुरक्षा आदि कार्य पर खुली चर्चा के लिए सहमत हैं। उत्तराखंड के विभिन्न कार्यक्रमों और आम जनमानस के साथ संवाद में मेरे समक्ष यह बात बार-बार आई है कि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत और उनकी सरकार ने पिछले 4 साल में उत्तराखंड के लोगों के लिए कोई उपयोगी काम नहीं किया है। लोग उनका परिचय अब ‘जीरो वर्क सीएम’ कह कर देते हैं।

उन्होंने पत्र में कहा है कि मेरे द्वारा प्रेस वार्ता में ‘त्रिवेंद्र रावत जी द्वारा किए गए केवल पांच काम गिनाए जाने की चुनौती‘ के जवाब में आपने 20 दिसंबर 2020 को मीडिया में यह कहते हुए खुला निमंत्रण दिया था कि मैं जहां चाहूं, आप मुझे अपनी सरकार के 100 काम गिनवा सकते हैं। आपने यह भी कहा कि मैं चाहूं तो देहरादून आ जाऊं या चाहें, तो आपको दिल्ली बुला लूं। मैंने स्वयं मीडिया में आपका यह वक्तव्य देखा और मुझे बहुत खुशी हुई कि आप शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली, पानी आदि के कार्य पर खुली बहस के लिए तैयार हैं और ‘केजरीवाल माॅडल बनाम त्रिवेंद्र रावत माॅडल‘ पर देहरादून या दिल्ली में कहीं पर भी चर्चा के लिए तैयार हैं।

यह भी पढ़ें -  Big news :-सीएम ने की परिवहन और आबकारी विभाग की समीक्षा , दिए ये बड़े निर्देश

डिप्टी सीएम ने पत्र में आगे कहा है कि उत्तराखंड की जनता के लिए यह बहुत ही शानदार अवसर होगा कि उनकी चुनी हुई सरकार विपक्ष के साथ शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली, पानी आदि के मुद्दे पर खुली बहस करें। एक आम नागरिक के लिए इससे बेहतर कुछ नहीं हो सकता कि वह अपने वर्तमान और भावी नेताओं को स्कूल, अस्पताल, बिजली, पानी आदि के मुद्दों पर खुली बहस करता हुआ देखें और उसी के आधार पर चुनाव में अपने मताधिकार का इस्तेमाल करे। उत्तराखंड के लोग पिछले 20 सालों से इस बात का इंतजार कर रहे हैं कि उनके नेता उनके जीवन से जुड़े असली मुद्दों पर बात करें।

उपमुख्यमंत्री ने पत्र में कहा है कि आपके खुले निमंत्रण को स्वीकार करते हुए मैंने आपसे 2, 3 अथवा 4 जनवरी 2021 में से कोई भी तारीख चुनकर स्थान और समय निश्चित करने का अनुरोध किया था, ताकि मैं और आप देहरादून में उपरोक्त मुद्दों पर खुली बहस कर सकें। आपके द्वारा कोई उत्तर न पाकर अब मैंने तय किया है कि मैं 4 जनवरी 2021 को देहरादून में रहूंगा। उत्तराखंड में हुए कार्यों पर पहले तो बहस देहरादून मे ही होनी चाहिए। आपसे पुनः अनुरोध है कि आप 4 जनवरी को सुबह 11 बजे आईआरडीटी आँडिटोरियम में जरूरत पधारें, ताकि हम दोनों ‘त्रिवेंद्र रावत माॅडल बनाम केजरीवाल माॅडल‘ पर खुलकर चर्चा कर सकें।

यह भी पढ़ें -  Big breaking:-बिजली कर्मियों की हड़ताल स्थगित , सीएम के साथ वार्ता में बनी बात

डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने पत्र में कहा है कि आपने अपने मीडिया वक्तव्य में दिल्ली आने का भी जिक्र किया था। मुझे और मेरी सरकार को बहुत खुशी होगी कि अगर आप 4 जनवरी को देहरादून में खुली चर्चा के बाद 6 जनवरी को दिल्ली आ सकें। दिल्ली में मैं आपको पूरे सम्मान व आदर के साथ केजरीवाल सरकार द्वारा सरकारी स्कूलों में हुए आमूलचूल परिवर्तन भी दिखाऊंगा और अस्पताल, बिजली, पानी, महिला सुरक्षा, आर्थिक प्रगति, ईमानदार राजनीति आदि के क्षेत्र में हुए अभूतपूर्व एवं सफल कार्य दिखाने भी ले चलूंगा।

मनीष सिसोदिया ने पत्र में आगे लिखा है कि मैं उम्मीद करता हूं कि आप अपने निमंत्रण से पीछे नहीं हटेंगे और 4 जनवरी को देहरादून में और 6 जनवरी को दिल्ली में मेरे साथ उपरोक्त विषयों पर खुली चर्चा के लिए समय निकालेंगे। एक बार पुनः आपको एवं समस्त उत्तराखंड वासियों को नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं!

Continue Reading
Click to comment
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

More in आम आदमी पार्टी

Like Our Facebook Page

Latest News