Connect with us

कोविड प्रोटोकॉल का कर रहे भीम लाल आर्य उल्लंघन, जनसभा को कर रहे थे संबोधित

उत्तराखंड

कोविड प्रोटोकॉल का कर रहे भीम लाल आर्य उल्लंघन, जनसभा को कर रहे थे संबोधित

घनसाली: उत्तराखंड में कोविड-19 के चलते रैलियों और सभाओं पर रोक लगाई हुई है और आदर्श आचार संहिता का सख्ती से पालन करने के निर्देश भी दिए हैं. बावजूद इसके विधायक और नेता कोविड प्रोटोकॉल का उल्लंघन कर रहे हैं. ऐसा ही नजारा घनसाली विधानसभा क्षेत्र में देखने को मिला. यहां आज नेता नहीं बेटा का नारा देने वाले पूर्व विधायक भीम लाल आर्य ने नियम कानून को ताक पर रख विशाल जनसभा को संबोधित किया. इस मौके पर सैकड़ों लोगों की भीड़ मौजूद रही. इस दौरान पूर्व विधायक भीम लाल आर्य और उनके समर्थक धारा 144 और कोविड-19 की गाइडलाइन भी भूल गए. नियमों पर कार्रवाई करने का दावा करने वाला शासन- प्रशासन भी इस दौरान मूक दर्शक बना रहा.

देश में कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर केंद्रीय निर्वाचन आयोग ने रैलियों और जनसभाओं पर रोक लगा रखी है.ऐसे में  ताजा मामला घनसाली से सामने आयाहै. यहाँ शशि कॉन्प्लेक्स में भीम लाल आर्य ने नियम कानून को ताक पर रख विशाल जनसभा को संबोधित किया. इस मौके पर सैकड़ों लोगों की भीड़ मौजूद रही. इस दौरान पूर्व विधायक भीम लाल आर्य और उनके समर्थक धारा 144 और कोविड-19 की गाइडलाइन का उल्लंघन किया. इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

यह भी पढ़ें -  मंत्री गणेश जोशी की रणनीति से सीएम धामी ऐसे जीतेंगे चुनावी रण

वीडियो वायरल होने के बावजूद भी अभी तक भीम लाल आर्य पर कोई कार्रवाई नहीं की गई है. जिससे सवालियां निशान खड़े हो रहे है. आचार संहिता के धारा 144 और कोविड-19 गाइडलाइन के उल्लंघन के मामले में प्रशासन द्वारा कोई कार्रवाई की जाएगी? गौरतलब है कि इससे पहले घनसाली विधायक शक्तिलाल शाह भी नियम को ताक पर रख रैली करते नज़र आए थे. टिकट मिलने के बाद स्वागत समारोह में शाह ने चमियाला बाजार में कोविड गाइडलाइन और आचार संहिता का उल्लंघन का किया था. जिसकी खबर मीडिया उत्तराखंड टुडे ने प्रमुखता से चलाई थी. खबर पर एक्शन लेते हुए चुनाव आयोग ने विधायक शक्तिलाल शाह को नोटिस जारी किया है. साथ ही 24 घण्टे के भीतर अपना स्पष्टीकरण देने के निर्देश दिए हैं. अब देखते है भीम लाल आर्य पर क्या कार्रवाई होती है.

Continue Reading
Click to comment
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

More in उत्तराखंड

Like Our Facebook Page

Latest News