Connect with us

मातृभाषा में शिक्षा प्रदान करने का निर्णय नई शिक्षा नीति की सबसे महत्वपूर्ण बात है-राज्यपाल

उत्तराखंड

मातृभाषा में शिक्षा प्रदान करने का निर्णय नई शिक्षा नीति की सबसे महत्वपूर्ण बात है-राज्यपाल

राज्यपाल श्रीमती बेबी रानी मौर्य से शुक्रवार को पब्लिक रिलेशन सोसाइटी ऑफ इंडिया (पी.आर.एस.आई.) के उत्तराखण्ड चैप्टर के पदाधिकारियों ने भेंट की। इस अवसर पर पी.आर.एस.आई. ने नई शिक्षा नीति पर आधारित पुस्तक ‘‘नवयुग का अभिनंदन’’ राज्यपाल श्रीमती मौर्य को भेंट की। पी.आर.एस.आई. द्वारा प्रकाशित इस पुस्तक में राज्यपाल श्रीमती मौर्य का लेख भी है। इस अवसर पर राज्यपाल श्रीमती मौर्य ने कहा कि मातृभाषा में शिक्षा प्रदान करने का निर्णय नई शिक्षा नीति की सबसे महत्वपूर्ण बात है। नई शिक्षा नीति का उद्देश्य विद्यार्थियों में नैतिक मूल्यों का विकास, वैज्ञानिक दृष्टिकोण का संवर्द्धन तथा शोध अनुसंधान तथा नवाचार हेतु प्रेरणा देना है। राज्यपाल ने कहा कि कोरोना लॉकडाउन में भारतीय शिक्षण संस्थानों ने ऑनलाइन शिक्षा को जिस प्रकार अपनाया, उससे सिद्ध हो जाता है, कि हमारी शिक्षा प्रणाली नवाचार के लिये तैयार है।
राज्यपाल ने कहा कि प्रदेश में नई शिक्षा नीति के सफल क्रियान्वयन हेतु वे स्वयं कई बैठकें कर चुकी है। प्राथमिक एवं माध्यमिक शिक्षा विभाग को इस हेतु ठोस कार्ययोजना बनाने के निर्देश भी दिये गये है। विश्वविद्यालयों के कुलपतियों को भी नई शिक्षा नीति की कार्ययोजना तथा प्रभावी क्रियान्वयन हेतु की गई कार्यवाही की जानकारी प्रेषित करने को कहा गया है। पी.आर.एस.आई. के प्रयासों की सराहना करते हुए राज्यपाल श्रीमती मौर्य ने बच्चों के कल्याण एवं शिक्षा के क्षेत्र में कार्य करने का सुझाव दिया। उन्होंने कहा कि बच्चों को उनके व्यक्तिगत विकास के समुचित अवसर मिलने चाहिये। बच्चों को बड़े सपने देखने के लिये प्रेरित करें।
उप निदेशक सूचना नितिन उपाध्याय ने उत्तराखण्ड चैप्टर का संक्षिप्त परिचय दिया। उन्होंने कहा कि पीआर.एस.आई. जनसंपर्क कार्य से जुड़े लोगो का संगठन है, जिसके पूरे देश में राज्य स्तर पर चैप्टर स्थापित किये गये है। उत्तराखण्ड चैप्टर द्वारा जनसंपर्क कार्यों की दिशा में प्रभावी कार्य किया जा रहा है।इस अवसर पर पब्लिक रिलेशन सोसाइटी ऑफ इंडिया के उत्तराखण्ड चैप्टर के अध्यक्ष अमित पोखरियाल ने बताया कि चैप्टर द्वारा राज्य एवं केन्द्र सरकार की जनकल्याणकारी नीतियों का व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। इसी कड़ी में नई शिक्षा नीति पर देशभर के विद्धानों एवं शिक्षाविदों के विचार एवं प्रतिक्रिया को संकलित कर पुस्तक का प्रकाशन किया गया है, जिसका विगत दिनों नई दिल्ली में केन्द्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक द्वारा वर्चुअल विमोचन किया गया। कोरोना काल में भी चैप्टर द्वारा राज्यपाल महोदय द्वारा प्रदान किये गये मास्क एवं सैनिटाइजर का वितरण किया गया।इस अवसर पर पब्लिक रिलेशन सोसाइटी ऑफ इंडिया के उत्तराखण्ड चैप्टर के सचिव अनिल सती, कोषाध्यक्ष सुरेश चन्द्र भट्ट, संयुक्त सचिव राकेश डोभाल आदि उपस्थित थे।

 

Continue Reading
Click to comment
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

More in उत्तराखंड

Like Our Facebook Page

Latest News