Connect with us

लोकसभा चुनाव: आज सुबह आठ बजे से गिनती होगी शुरू, काउंटिंग के लिए 884 टेबल, 27 आब्जर्वर तैनात

उत्तराखंड

लोकसभा चुनाव: आज सुबह आठ बजे से गिनती होगी शुरू, काउंटिंग के लिए 884 टेबल, 27 आब्जर्वर तैनात

सुबह 8 बजे से होने वाली मतगणना को लेकर निर्वाचन आयोग ने राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ सोमवार को बैठक की. बैठक के दौरान निर्वाचन आयोग की ओर से सभी राजनीतिक दलों को स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं कि ईवीएम का स्ट्रांग रूम के खुलने के दौरान राजनीतिक पार्टियों के प्रतिनिधि मौजूद रहे. साथ ही इस बाबत भी निर्देश दिए गए हैं की काउंटिंग सेंटर से 100 मीटर के भीतर वाहनों की अनुमति नहीं होगी. राजनीतिक पार्टियों की ओर से जिस भी कार्यकर्ता को निर्वाचन व्यवस्था की जिम्मेदारी दी गई है उनको तभी अनुमति दी जाएगी जब उनके पास ऑथराइज्ड पास होगा.

अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी विजय कुमार जोगदंडे ने बताया निर्वाचन आयोग की तरफ से 27 आब्जर्वर तैनात किए गए हैं. जिसके तहत 2 दिन पहले ही ऑब्जर्वर उत्तराखंड पहुंच गए हैं. ऑब्जर्वर का मुख्य काम भारत निर्वाचन आयोग की ओर से तय किए गए नियमों के तहत मतगणना की प्रक्रिया संपन्न करवाना है. मतगणना संपन्न होने के बाद आब्जर्वर के सिग्नेचर के बाद ही चुनाव नतीजे घोषित किए जाते हैं. स्ट्रांग रूम में रखे गए ईवीएम को जब मतगणना के लिए बाहर निकल जाएगा तो उसे दौरान वीडियोग्राफी भी की जाएगी.

यह भी पढ़ें -  शॉर्ट सर्किट की चिंगारी ने जला दिया पूरा घर, एक के बाद एक हुए कई ब्लास्ट से सहमे लोग

प्रदेशभर में लगाये गये 884 टेबल: प्रदेश भर में मतगणना के लिए 884 टेबल लगाए गए हैं. पोस्टल बैलेट के लिए 334 टेबल लगाए गए हैं. हर विधानसभा सीट के अनुसार अधिकतम 14 टेबल लगाई गई हैं. हर टेबल पर तीन कर्मचारियों की तैनाती की गई है. इसके अलावा प्रदेश भर में करीब 20 फीसदी अतिरिक्त कर्मचारी रिजर्व में रखे गए हैं. जिससे इमरजेंसी के दौरान इन कर्मचारियों को तैनाती की जा सके. हरिद्वार लोकसभा सीट के पिरान कलियर विधानसभा सीट पर सबसे कम 8 टेबल ईवीएम से मतों की गणना के लिए लगाई गई हैं.

यह भी पढ़ें -  चारधाम यात्रा को लेकर बड़ी खबर, यात्रियों की संख्या की लिमिट खत्म; सीधे कराएं रजिस्ट्रेशन

काउंटिंग सेंटर पर थ्री लेयर सुरक्षा:काउंटिंग सेंटर के सुरक्षा व्यवस्था को देखते हुए काउंटिंग सेंटर के बाहर त्रिस्तरीय सुरक्षा घेरा बनाया गया है. पहले सुरक्षा घेरे में सीआरपीएफ की तैनाती होगी, दूसरे सुरक्षा घेरे में स्टेट आर्मी पुलिस की तनाती होगी. तीसरे सुरक्षा घेरे यानी काउंटिंग सेंटर से करीब 100 मीटर की दूरी पर राज्य पुलिस की तैनाती की जाएगी. काउंटिंग सेंटर से 100 मीटर दूरी से ही वाहनों की आवाजाही पूरी तरह से प्रतिबंधित होगी. काउंटिंग सेंटर के अंदर किसी भी तरह के इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस को लाने की अनुमति नहीं होगी.

यह भी पढ़ें -  गंगोत्री नेशनल हाईवे पर गहरी खाई में गिरी यात्रियों से भरी बस, एक महिला की मौत, कई घायल

8 बजे से शुरू होगी काउंटिंग:सुबह 8:00 से मतगणना की प्रक्रिया शुरू होने के बाद जब ईवीएम से मतों की गणना संपन्न हो जाएगी उसके बाद रेंडम्ली पांच वीवीपैट की भी गणना की जाएगी. उसका ईवीएम में आए मतों से मिलान कराया जाएगा. उत्तराखंड राज्य में कर्मचारियों की ओर से कुल 27156 पोस्टल बैलेट, दिव्यांग और 85 साल से अधिक उम्र के मतदाताओं से 12670 पोस्टल बैलेट और डाक मत पत्र से अभी तक 52553 पोस्टल बैलेट प्राप्त हो चुके हैं. 4 जून को सुबह 8 बजे तक डाक मतपत्र आने का सिलसिला जारी रहेगा. जिसको भी मतगणना में शामिल किया जाएगा. अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि पौड़ी, टिहरी और अल्मोड़ा जिले में सबसे अधिक पोस्टल बैलेट प्राप्त हुए हैं. ऐसे में इनके नतीजे थोड़ी देरी से जारी होंगे.

Continue Reading

More in उत्तराखंड

Like Our Facebook Page

Latest News

Author

Author: Shakshi Negi
Website: www.gairsainlive.com
Email: [email protected]
Phone: +91 9720310305