Connect with us

गैरसैंण बजट सत्र की हंगामेदार शुरुआत, विपक्ष के नारों के बीच राज्यपाल ने पढ़ा अभिभाषण

उत्तराखंड

गैरसैंण बजट सत्र की हंगामेदार शुरुआत, विपक्ष के नारों के बीच राज्यपाल ने पढ़ा अभिभाषण

गैरसैंण। विपक्षी दल कांग्रेस के भारी हंगामे के बीच राज्यपाल ले. जनरल गुरमीत सिंह ने अपने अभिभाषण में भाजपा सरकार की बिकास योजनाओं का खाका खींचा। सोमवार को 11 बजे शुरू हुए विधानसभा सत्र के पहले दिन कांग्रेस सदस्यों ने अंकिता भंडारी हत्याकांड, भर्ती घोटाले,महंगाई समेत अन्य मुद्दों को लेकर सदन में नारेबाजी शुरू कर दी। अंकिता भंडारी मामले में वीआईपी का पता नहीं चलने पर कांग्रेस बेंच आक्रोश में दिखी।

कांग्रेस विधायक अंकिता भंडारी को न्याय दो..गरीबों का शोषण बन्द करो,,जुमलेबाजों की सरकार नहीं चलेगी.. नहीं चलेगी ..नारे लगा रहे थे। भारी शोरगुल के बीच राज्यपाल ने जोशोखरोश के साथ अभिभाषण पढ़ना जारी रखा। और सरकार की विकास योजनाओं को गिनाते चले गए। इस दौरान राज्यपाल ने पानी के घूंट भी पिये। साथ ही राष्ट्रीय स्तर पर विभिन्न सेक्टर में उत्तराखण्ड के बेहतर प्रदर्शन का अपने विशेष अंदाज में उल्लेख भी किया।

यह भी पढ़ें -  प्रेम प्रसंग में आड़े आई सास, बहू ने प्रेमी के साथ मिलकर घोंट दिया गला.. ऐसे खुला राज

उत्तराखण्ड राज्य के मा० विधान सभा अध्यक्ष, मा० मुख्यमंत्री, नेता प्रतिपक्ष एवं विधान सभा के मा० सदस्यगणमैं आप सभी महानुभावों का पंचम विधान सभा वर्ष 2023 के प्रथम सत्र में हार्दिक स्वागत करता हूँ। देव भूमि उत्तराखण्ड को एक आदर्श एवं विकसित राज्य बनाये जाने में किये जा रहे प्रयासों एवं सहयोग के लिए मैं, समस्त विधान सभा सदस्यों तथा प्रदेश की जनता के प्रति आभार व्यक्त करता हूँ, इसके साथ ही प्रदेश की उत्तरोत्तर संवृद्धि की भी कामना करता हूँ। मुझे विश्वास है कि हम आगामी वित्तीय वर्ष में जनआकांक्षाओं के अनुरूप विकास की नई ऊँचाइयों को प्राप्त करेंगे तथा आत्मनिर्भर उत्तराखण्ड के निर्माण के लिए कृत संकल्पित होकर अपना योगदान देंगे।

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड बजट सत्र 2024: सदन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित, विपक्ष का आरोप- सरकार ने बजट पर चर्चा के लिए नहीं दिया मौका

आजादी के अमृतकल में यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र दामोदर दास मोदी जी के कुशल एवं प्रखर नेतृत्व में विश्वपटल पर 21वीं सदी के आत्मनिर्भर भारत का उदय हो रहा है। मा० प्रधानमंत्री जी का यह विश्वास की “21वीं शताब्दी का तीसरा दशक उत्तराखण्ड का दशक होगा”, को साकार करने तथा राष्ट्र की 05 ट्रिलियन अर्थव्यवस्था के लक्ष्य को प्राप्त करने हेतु राज्य सरकार के 25 वर्ष पूर्ण होने तक पूंजीगत व्यय में वृद्धि दर के साथ आगामी पांच वर्षों में GSDP को दोगुना किया जायेगा ।

Continue Reading

More in उत्तराखंड

Like Our Facebook Page

Latest News

Author

Author: Shakshi Negi
Website: www.gairsainlive.com
Email: [email protected]
Phone: +91 9720310305