Connect with us

सरकारी विद्यालयों की मासिक परीक्षा को लेकर शिक्षा विभाग ने किए आदेश जारी

उत्तराखंड

सरकारी विद्यालयों की मासिक परीक्षा को लेकर शिक्षा विभाग ने किए आदेश जारी

जनपदों में मासिक परीक्षा एवं सर्वेक्षणविद्यालय में मासिक परीक्षा का मूल्यांकन कराये जाने के सम्बन्ध में।

उपरोक्त विषयक महानिदेशक विद्यालयी शिक्षा के पत्र सेवा-01 (0)/11439-41 / मासिक परीक्षा / 2021-22/ दिनांक 25 मार्च, 2022 शासनादेश सं०-255 / XXIV-5/2019-9(1)2018 दिनांक 26 जून 2019 महानिर्देशक विद्यालयी शिक्षा उत्तराखण्ड पत्र पत्रांक / मासिक परीक्षा/2512/2019-20/02 जुलाई, 2019 का अवलोकन /सन्दर्भ ग्रहण करने का कष्ट करें।

० विगत 2 वर्षों से कोविड-19 के कारण शैक्षिक गतिविधियां प्रभावित हुई है तथा विद्यालयों के अनियमित संचालन के कारण इस अवधि में मासिक परीक्षा नहीं की जा सकी है, जबकि मासिक परीक्षा शैक्षिक गुणवत्ता वृद्धि के लिए एवं छात्रों के मूल्यांकन, शैक्षिक वातावरण को बनाए रखने में अति आवश्यक है।

यह भी पढ़ें -  विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूडी भूषण लखनऊ के दो दिवसीय दौरे पर, श्री राम जन्मभूमि परिसर में रामलला के किए दर्शन

o अब सभी विद्यालयों में भौतिक रूप से पठन-पाठन का कार्य आरम्भ हो गया है। इसलिए शैक्षिक सत्र 2022-23 में जो कि 01 अप्रैल, 2022 से आरम्भ हो कर 31 मार्च 2023 तक चलेगा। समस्त जनपद निदेशक माध्यमिक व प्रारम्भिक शिक्षा द्वारा जारी पंचांग के अनुसार अपने अपने विद्यालय में मासिक परीक्षा आयोजित करना सुनिश्चित करेंगे।

● भासिक परीक्षा प्रदेश के समस्त विद्यालयों में आयोजित की जाएगी। ब्लाक के 07 सर्वेक्षण विद्यालयों को छोड़कर समस्त विद्यालयों में मासिक परीक्षाओं का मूल्यांकन उसी विद्यालय के शिक्षकों द्वारा किया जायेगा। 07 सर्वेक्षित विद्यालयों का मूल्यांकन डायट के निर्देशन में किया जायेगा।

यह भी पढ़ें -  महंगाई की मार: उत्तराखंड में फिर बढ़ेंगे बिजली के दाम, आम जनता को एक और झटका

० मासिक परीक्षाओं की तिथि एवं पाठ्यक्रम के संदर्भ में निदेशक माध्यमिक एवं प्रारम्भिक शिक्षा जनपदों को व समस्त मुख्य शिक्षा अधिकारी सम्बन्धित विकासखण्डों एवं विद्यालयों को अवगत करायेंगे कि किस तिथि को पूरे प्रदेश में मासिक परीक्षा आयोजित होगी व उस तिथि से पूर्व लर्निंग आउटकम के आधार पर डायट अपने जिले के लिए विषयवार व कक्षावार प्रश्न पत्र तैयार कर विकासखण्ड स्तर तक पहुँचाने की कार्यवाही करेंगे। (कार्यवाही निदेशक, माध्यमिक, प्रारम्भिक एवं समस्त मुख्य शिक्षा अधिकारी, समस्त डायट प्राचार्य उत्तराखण्ड)

● समय शिक्षा / महानिदेशालय का एमआईएस पटल मासिक परीक्षा के लिए प्रत्येक ब्लॉक से 7 विद्यालयों का चयन डायस डाटा के आधार (03-प्राथमिक 01- उच्च प्राथमिक, 01- हाई स्कूल, 02-इंटर) यदुध्या (At Random) से करते हुए जनपदों व डाइट्स को अवगत करायेगे। (कार्यवाही समग्र शिक्षा अभियान, यू-डायस पटल)

यह भी पढ़ें -  बदरी केदार जाने वाले श्रद्धालु ध्‍यान दें, उत्तराखंड परिवहन निगम ने किया किराया दुगना

संबंधित डायट प्रत्येक ब्लॉक के 7 सर्वेक्षित विद्यालयों की मासिक परीक्षा का मूल्यांकन कर व उनकी विषयवार ग्रेडिंग करेंगे की किस ब्लॉक का किस कक्षा का वह किस विषय का स्तर कैसा रहा है ब्लॉक की ग्रेडिंग कर माध्यमिक व प्रारम्भिक शिक्षा निदेशालय को भेजेंगे।

● माध्यमिक शिक्षा एंव प्रारम्भिक शिक्षा निदेशालय प्रत्येक जनपद के समस्त जिलों की डायट से प्राप्त, ब्लाकों की ग्रेडिंग / गुणवत्ता का विश्लेषण करेंगे और महानिदेशालय को अवगत करायेंगे।

Continue Reading
Click to comment
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

More in उत्तराखंड

Like Our Facebook Page

Latest News