Connect with us

एक्शन में CM धामी! उद्यान निदेशक हरमिंदर बवेजा सस्पेंड, जानिए कारण

उत्तराखंड

एक्शन में CM धामी! उद्यान निदेशक हरमिंदर बवेजा सस्पेंड, जानिए कारण

देहरादून। उद्यान विभाग के चर्चित और विवादित निदेशक हरमिंदर बवेजा को सस्पेंड कर दिया है। मुख्यमंत्री धामी ने इस कार्रवाई से स्पष्ट संकेत दिए हैं कि भ्रस्टाचारियों के लिए सिस्टम में ‘इफ-बट’ की कोई गुंजाइश नहीं कई आरोप लगे हैं। बवेजा को मंत्री गणेश जोशी का करीबी माना जाता है। बता दें कि पूर्व में भी बवेजा पर कार्रवाई की बात हुई लेकिन हर बार बच निकले। अबकी सीएम धामी ने उन्हें दाब लिया।

गौरतलब है कि उद्यान विभाग के निदेशक बवेजा पर कई आरोप लगे हैं। उद्यान विभाग की तनम योजनाओं को लेकर उन पर सवाल खड़े होते रहे हैं। सूत्रों की मानें तो उद्यान निदेशक के खिलाफ विभिन्न स्रोतों से मिल रही शिकायतों के आधार पर यह एक्शन लिया गया है। बताया गया कि बवेजा की शासन स्तर पर भी जांच चल रही थी लेकिन यह ठंडे बस्ते में पड़ी थी। अब मुख्यमंत्री धामी ने इस मामले में बड़ा कदम उठाते हुए बवेजा को निलंबित करने के निर्देश जारी कर दिए हैं।

यह भी पढ़ें -  वायुसेना के हेलीकॉप्टर केदारनाथ धाम पहुंची महिंद्रा थार, इस काम में करेगी यात्रियों की मदद

गौर है कि उत्तराखंड में भ्रष्टाचार के खिलाफ सीएम पुष्कर सिंह धामी ने जबरदस्त मुहिम छेड़ी हुई है। अभी कुछ दिन पहले ही आईएएस रामविलास यादव को जेल भेजकर उन्होंने साफ और सख्त संदेश दिया है कि भ्रष्टाचार में लिप्त किसी भी कार्मिक को बख्शा नहीं जाएगा। अब बवेजा के खिलाफ कठोर एक्शन लेकर धामी ने जता दिया है कि भ्रस्टाचारियों के लिए उत्तराखंड में कोई जगह नहीं है।

यह भी पढ़ें -  उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने किए कैंची धाम के दर्शन, बोले- बाबा के दर्शन कर अभिभूत हूं

मुख्यमंत्री धामी की पहल पर प्रदेश में 1064 नंबर जारी किया गया है। इस मुहिम के तहत यदि किसी भी सरकारी विभाग में कोई कर्मचारी, अधिकारी आम जनता से किसी भी तरह की रिश्वत मांगता है तो 1064 टोल फ्री नंबर पर कॉल कर शिकायत की जा सकती है। शिकायत करने वाले का नंबर गुप्त रखा जाएगा। भ्रष्टाचार की शिकायत पर बेहद सख्त कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए जांच एजेंसियों को खुली छूट दी गई है। सभी विभागों में भी 1064 के बोर्ड लगा दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें -  Kedarnath Yatra: अब एक दिन में 36 हजार श्रद्धालु करेंगे बाबा केदार के दर्शन, मंदिर समिति ने बनाई यह रणनीति

सीएम पुष्कर धामी ने साफ किया की विभागों में कमीशन मांगने वालों, जनहित के कार्यों में रिश्वत मांगने वालों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा। सीधी कार्रवाई की जाएगी। कर्मचारी छोटा हो या कोई बड़ा अफसर, किसी को भी भ्रष्टाचार की छूट नहीं दी जाएगी। सभी सरकारी कर्मचारियों और अधिकारियों को पूरी ईमानदारी और पारदर्शी तरीके से काम करना होगा।

Continue Reading

More in उत्तराखंड

Like Our Facebook Page

Latest News

Author

Author: Shakshi Negi
Website: www.gairsainlive.com
Email: [email protected]
Phone: +91 9720310305