Connect with us

Big breaking:-देहरादून जनपद की स्वास्थ्य व्यवस्था पर कांग्रेस ने उठाए सवाल , कही ये बड़ी बात

उत्तराखंड

Big breaking:-देहरादून जनपद की स्वास्थ्य व्यवस्था पर कांग्रेस ने उठाए सवाल , कही ये बड़ी बात

 

देहरादून जनपद की स्वास्थ्य व्यवस्था स्वयं बीमार पड़ी है। अस्पतालों में मेडिकल स्टाफ, बेड, वेंटिलेटर और जीवनरक्षक दवाइयों की कमी के कारण मरीज बिन इलाज भटकने को मजबूर हैं।

महानगर कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष  लाल चंद षर्मा के नेतृत्व में महानगर कांग्रेसजनों नें देहरादून जनपद में लचर स्वास्थ्य सेवाओं के समाधान की मांग कर ज्ञापन प्रषित किया।

ज्ञापन के माध्यम से महानगर कांग्रेस अध्यक्ष  लाल चंद शर्मा नें प्रेमनगर अस्पताल का विस्तारिकरण की मंाग कर कहा प्रेमनगर उप जिला अस्पताल में इलाज के लिए हजारो की आबादी निर्भर है। साथ ही हाईवे पर स्थित होने के कारण यहां पर अक्सर सड़क दुर्घटनाओं में घायल और गंभीर मरीज पहुंचते हैं। लेकिन अस्पताल में पर्याप्त चिकित्सा सुविधा न होने के कारण उन्हें हायर सेंटर रेफर करना पड़ता है। ऐसे में कई बार समय पर सही उपचार न मिलने के कारण मरीज की जान खतरे में पड़ जाती है, तथा प्रेमनगर अस्पताल में सिटी स्कैन मशीन की व्यवस्था प्रेमनगर अस्पताल में व्यवस्थित रूप से ट्रॉमा सेंटर, अल्ट्रासाउंड, एक्सरे और पैथोलॉजी जांच की नई मशीनें तथा प्रेमनगर अस्पताल में पार्किंग और सौंदर्य प्रसाधन की व्यवस्था ठीक कराई जाए।

यह भी पढ़ें -  Big breaking:-मुख्यमंत्री ने नालापानी चौक में प्रीतम भरतवाण जागर ढोल सागर इंटर नेशनल अकादमी का किया शुभारंभ , देश विदेश के छात्र छात्राएं सीखेंगे उत्तराखंड की कला


उन्होनें कहा राजकीय जिला अस्पताल के गांधी शताब्दी अस्पताल भवन की लिफ्ट सही की जाए। कुछ दिन पहले रक्षा राज्य मंत्री और प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री भी लिफ्ट में फंस गए थे। ऐसे ही मरीजों खासकर गर्भवती महिलाओं को आए दिन मुसीबत का सामना करना पड़ता है, दून मेडिकल अस्पताल के नए ओपीडी भवन में वाहन पार्किंग और मरीजों के लिए लिए लिफ्ट की समुचित व्यवस्था नहीं है। इसे दुरुस्त कराया जाए, दून मेडिकल अस्पताल के पुराने और नए ओपीडी भवन को जोड़ने वाले पुल को शीघ्र तैयार कराया जाए। ताकि मरीजों और स्टाफ को आने जाने में सहूलियत हो, दून अस्पताल में आउटसोर्सिंग से लगे कर्मचारियों को समय पर वेतन मिले।ताकि वह मन लगाकर कार्य करें और अस्पताल की व्यवस्थाएं ठीक से संचालित हों और मरीजों को सही उपचार मिल सके।

यह भी पढ़ें -  Big news :-सीएम पुष्कर सिंह धामी पहुंचे सचिवालय स्थित आपदा कंट्रोल रूम , प्रदेश में अतिवृष्टि की स्थिति की ली जानकारी

दून अस्पताल में लगभग दो साल से एमआरआई मशीन खराब है, जिससे मरीजों को बहुत महंगे शुल्क पर निजी अस्पतालों से जांच करानी पड़ रही है। दून अस्पताल में नई एमआरआई मशीन अति शीघ्र लगाई जाए।
उन्होनें कहा रायपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में चिकित्सा सुविधाओं का विस्तार किया जाए, मान्यवर यह भी पता लगा है कि अगर किसी ने स्पूतनिक के टीके की पहली खुराक दूसरे निजी अस्पताल में लगाई है और वह दूसरी खुराक अन्य किसी अस्पताल में लगाते हैं तो उनसे पहली खुराक का भी शुल्क लिया जा रहा है। जो कि न्यायोचित नहीं है।

यह भी पढ़ें -  Big breaking:-देहरादून जिला प्रशासन का गजब का ऑफर , कोरोना का टीका लगाएं और इनाम जीतने का मौका पाएं

इस दौरान पूर्व विधायकर राजकुमार, अरूण शर्मा, पार्षद कोमल बोहरा, उर्मिला थापा, सविता सोनकर, रिता रानी, सचिन थापा, इलियास अंसारी, मुकिम अहमद, आनंद त्यागी, अनूप कपूर, नीरज नेगी, जगदीश धीमान, राजेन्द्र सिंह, रईस, अवतार  दिवाकर, ताहसीन, पूर्व जिला जज जयदेव सिंह , शफीक अहमद, महेन्द्र रावत आदी मौजूद थे।

 

Continue Reading
Click to comment
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

More in उत्तराखंड

Like Our Facebook Page

Latest News