Connect with us

अल्मोड़ा: राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में शिक्षक पर छात्रों के यौन उत्पीड़न का सनसनीखेज आराेप

अल्मोड़ा

अल्मोड़ा: राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में शिक्षक पर छात्रों के यौन उत्पीड़न का सनसनीखेज आराेप

बेतालघाट ब्लाक से लगे विकासखंड के धुराफाट पट्टी स्थित राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय स्यालीखेत में कार्यरत एक शिक्षक छात्रों के यौन उत्पीड़न संबंधी गंभीर शिकायत में घिर गए हैं। आरोप है कि शिक्षक घंटों छात्रों को कक्ष में बंद रखते हैं। गंदी हरकतें की जाती है।

अल्मोड़ा जिले के ताड़ीखेत ब्लाक के राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय स्यालीखेत में छात्रों के यौन उत्पीड़न का सनसनीखेज मामला सामने आया है। आक्रोशित ग्रामीण व अभिभावक विद्यालय जा धमके। आरोपित शिक्षक की गिरफ्तारी की मांग उठा हंगामा काटा। आरोप लगाया कि यौन उत्पीड़न का मामला खुलते ही आरोपित शिक्षक अवकाश पर चला गया। अलबत्ता विभागीय स्तर पर जांच बैठा दी गई है। उधर संयुक्त मजिस्ट्रेट ने भी प्रशासनिक टीम भेज विद्यालय प्रबंध समिति से रिपोर्ट देने को कहा हैI शिक्षा मंदिर में बच्चों के साथ दुर्व्यवहार के कथित आरोप से शिक्षक जगत में हडकंप है।

यह भी पढ़ें -  हरिद्वार: तेज रफ्तार मैक्स व ट्रक की आमने-सामने की जोरदार टक्कर, एक की मौत 2 लोग गंभीर रूप से घायल

बेतालघाट ब्लाक से लगे विकासखंड के धुराफाट पट्टी स्थित राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय स्यालीखेत में कार्यरत एक शिक्षक छात्रों के यौन उत्पीड़न संबंधी गंभीर शिकायत में घिर गए हैं। आरोप है कि शिक्षक घंटों छात्रों को कक्ष में बंद रखते हैं। गंदी हरकतें की जाती है। घर पर शिकायत करने पर फेल करने व जान से मारने की धमकी दी जाती है। मामला खुला तो गुरुवार को जनाक्रोश भडक उठाI आसपास के गांवों के लोग व अभिभावक विद्यालय जा धमके।

आरोपित शिक्षक पर कार्रवाई की पुरजोर वकालत की। घंटों हंगामा चलता रहा। पता लगने पर खंड शिक्षाधिकारी श्याम सिंह बिष्ट विद्यालय पहुंचे। प्रशासन को सूचना दी गई। डेरा डाले अभिभावकों ने आरोपित शिक्षक एरवन कुमार गंगवार को बर्खास्त करने की मांग उठाई। मामले की गंभारता को देखते हुए बाल उत्पीड़न समिति भी हरकत में आ गई है।आरोपित शिक्षक पर कार्रवाई की पुरजोर वकालत की। घंटों हंगामा चलता रहा। पता लगने पर खंड शिक्षाधिकारी श्याम सिंह बिष्ट विद्यालय पहुंचे। प्रशासन को सूचना दी गई। डेरा डाले अभिभावकों ने आरोपित शिक्षक एरवन कुमार गंगवार को बर्खास्त करने की मांग उठाई। मामले की गंभारता को देखते हुए बाल उत्पीड़न समिति भी हरकत में आ गई है।फिलहाल विभागय स्तर पर कार्रवाई न होने पर ग्रामीडों में गुस्सा है।

यह भी पढ़ें -  उत्‍तराखंड : तबीयत बिगड़ने से तीन और तीर्थयात्रियों की हुई मौत, अब तक 16 यात्रियों की हो चुकी है मौत

अभिभावकों ने दो टूक चेताया कि जल्द कार्रवाई न हुई तो आंदोलन करेंगे। रानीखेत की संयुक्त मजिस्ट्रेट जयकिशन ने बताया कि मामला संज्ञान में आ चुका है मौके पर टीम रवाना कर दी गई है रिपोर्ट मिलने के बाद अग्रिम कार्रवाई की जाएगी विद्यालय प्रबंधन से भी रिपोर्ट मांगी गई है।खंड शिक्षा अधिकारी श्याम सिंह बिष्ट के अनुसार मामले में जांच बैठा दी गई है, रिपोर्ट मिलने के बाद कार्रवाई की जाएगी। हंगामा काटने वालों में अभिभावक संघ अध्यक्ष दीवान सिंह रौतेला, ग्राम प्रधान मोहित गोस्वामी, पूर्व प्रधान पूरन सिंह, मान सिंह करायत, हीरा सिंह, श्याम सिंह, आनंद सिंह, सुनील मेहरा, आनंद सिंह मेहरा, प्रताप सिंह मेहरा, चंदन राम, कौशल्या देवी, माया देवी, बसंती देवी, पुष्पा देवी, उमा देवी, रेखा देवी आदि मौजूद रहे।

Continue Reading
Click to comment
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

More in अल्मोड़ा

Like Our Facebook Page

Latest News