Connect with us

जनता और सरकार के बीच पुल बने ‘विचार एक नई सोच’ : तीरथ – मुख्यमंत्री ने कहा, रचनात्मक और सकारात्मक पत्रकारिता समय की जरूरत

उत्तराखंड

जनता और सरकार के बीच पुल बने ‘विचार एक नई सोच’ : तीरथ – मुख्यमंत्री ने कहा, रचनात्मक और सकारात्मक पत्रकारिता समय की जरूरत

देहरादून । मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत, विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल और कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने संयुक्त रूप से ‘विचार एक नई सोच’ मासिक पत्रिका का लोकार्पण किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने पत्रिका की टीम को शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि पत्रकारिता का संचार तंत्र सामाजिक मूल्यों की आवाज होना चाहिए ताकि वह समाज के बीच लोकप्रियता बनाये रखे। उन्होंने कहा कि पत्रिका ने राजनैतिक, सामाजिक, आर्थिक, सांस्कृतिक सहित विभिन्न महत्वपूर्ण मुद्दों को स्थान दिया है, जो पत्रिका व पत्रिकारिता के क्षेत्र में सुंदर आगाज है।

मुख्यमंत्री ने कहा हमारी सरकार चाहती है कि सरकार की सोच और योजनाएँ पंचायत स्तर एवं ग्राम स्तर तक पहुँचे ताकि समाज के अंतिम आदमी तक योजनाओं का लाभ पहुँच सके। उन्होंने उम्मीद जतायी कि इस पत्रिका के माध्यम से उत्तराखंड के बाहर और भीतर होने वाली गतिविधियों की जानकारी मिल सकेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि समाचारों के प्रकाशन में नकारात्मकता की बजाए सकारात्मकता को महत्व देना चाहिए। तभी समाज और देश का कल्याण हो सकेगा।

यह भी पढ़ें -  हरिद्वार: तेज रफ्तार मैक्स व ट्रक की आमने-सामने की जोरदार टक्कर, एक की मौत 2 लोग गंभीर रूप से घायल

उन्होंने विचार एक नई सोच के प्रधान संपादक राकेश बिजल्वाण को शुभकामनाएँ दी और उम्मीद जाहिर की इस पत्रिका के माध्यम से उत्तराखंड की पत्रकारिता को एक नया आयाम मिलेगा। यह पत्रिका उत्तराखंड की समस्याओं को गहराई से अध्ययन करने और उनके समाधान का रास्ता दिखाने का भी काम करेगी।

इस मौके पर विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचन्द अग्रवाल ने कहा हैं कि पत्रकारों द्वारा उकेरे गए शब्द लोकप्रिय व सामाजिक मूल्यों की धरोहर से होने चाहिए जिसका बिम्ब आईने की भांति हो। उन्होंने पत्रिका के प्रकाशन की शुभकामनाएं दीं।

काबीना मंत्री सुबोध उनियाल ने शुभकामनाएं देते हुए कहा कि स्वच्छ पत्रिकारिता ही समाज का आईना है इसे बरकरार रखा जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि विचार एक नई सोच पत्रिका के प्रकाशन का ध्येय भी समाज सेवा व इसे ज्ञान का एक माध्यम बनाना है, ताकि शिक्षा, स्वास्थ्य, के साथ ही अन्य जनहित से जुड़ी योजनाओं का अधिक प्रसार हो सके।

यह भी पढ़ें -  अल्मोड़ा: राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में शिक्षक पर छात्रों के यौन उत्पीड़न का सनसनीखेज आराेप

पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि पत्र-पत्रिकाओं के माध्यम से आम आदमी और सरकार के बीच सीधा संवाद स्थापित हो सके इसके लिए ईमानदारी से प्रयास किया जाना चाहिए। उन्होंने उम्मीद जताई कि यह पत्रिका मीडिया के क्षेत्र में एक नई रचनात्मक दिशा तय करते हुए सजग प्रहरी की भूमिका अदा करेगा।

कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत बोले मीडिया अब और अधिक सजगता के साथ अपनी भूमिका निभा रहा है। अब गड़बड़ करने वाला बच नहीं सकता। उन्होंने कहा कि मनगढंत खबरों का प्रकाशन चिंता का विषय है। इससे बचना चाहिए। उन्होंने संपादक राकेश बिजल्वाण द्वारा विचार एक नई सोच प्रकाशन शुरू किए जाने के प्रयास की सराहना की।

यह भी पढ़ें -  कक्षा 1 से 8 तक अध्ययनरत छात्र-छात्राओं को मिलेगा मीठा सुगंधित दूध, आदेश हुए जारी

विधानसभा उपाध्यक्ष रघुनाथ चैहान ने शुभकामनाएं देते हुए कहा कि लोकतंत्र को जीवित रखने में समाचार पत्र, पत्रिकाओं की अहम भूमिका है। मुझे उमीद है कि पत्रिका इस दिशा में निर्भीकता से अपने दायित्व का निर्वहन करेगा।

सूचना महानिदेशक रणवीर चैहान ने अपनी शुभकामनाएं देते हुए कहा कि जिन लक्ष्यों को लेकर इस पत्रिका का प्रकाशन शुरु किया गया, मुझे विश्वास है कि पत्र से जुड़े लोग इस लक्ष्य को पूरा करेंगे। इस मौके पर पत्रिका के संपादक राकेश बिजल्वाण, संरक्षक मनोज इष्टवाल, सलाहकार संपादक अरुण चमोली, अवधेश नौटियाल सहित पत्रकार व गणमान्य लोग मौजूद रहे।

Continue Reading
Click to comment
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

More in उत्तराखंड

Like Our Facebook Page

Latest News