Connect with us

उत्तरकाशी टनल हादसा: एयरफोर्स के विशेष विमान से मंगाई गई 25 टन भारी मशीन, रेस्क्यू ऑपरेशन के पल-पल की अपडेट ले रहे मुख्यमंत्री धामी

उत्तराखंड

उत्तरकाशी टनल हादसा: एयरफोर्स के विशेष विमान से मंगाई गई 25 टन भारी मशीन, रेस्क्यू ऑपरेशन के पल-पल की अपडेट ले रहे मुख्यमंत्री धामी

उत्तराखंड के उत्तरकाशी में यमुनोत्री नेशनल हाईवे पर सिलक्यारा-डंडालगांव सुरंग का एक हिस्सा रविवार को ढह गया था. सुरंग के अदंर अचानक हुए भूस्खलन के कारण 40 मजदूर उसमें फंस गए थे. फिलहाल जिन्हें बाहर निकालने का काम तेजी से किया जा रहा है. अब उनके रेस्क्यू में भारतीय वायुसेना भी शामिल हो गई है. दरअसल सुरंग में फंसे मजदूरों को निकालने के लिए 900 एमएम मोटे स्टील पाइप के जरिए खुदाई की जा रही थी. जिसके बावजूद इसमें सफलता नहीं मिलने पर अब भारतीय एयरफोर्स के तीन विशेष विमान 25 टन भारी मशीन लेकर आए हैं, जो मलबे को भेदकर स्टील पाइप दूसरी तरफ पहुंचने में मददगार साबित होगी.

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी सिलक्यारा में चल रहे हैं रेस्क्यू ऑपरेशन पर निरंतर निगरानी बनाए हुए हैं |मुख्यमंत्री धामी ने कमिश्नर गढ़वाल, आईजी गढ़वाल एवं राहत एवं बचाव में लगी एजेंसियों से सिलक्यारा में चल रहे रेस्क्यू ऑपरेशन तथा टनल में फंसे श्रमिकों की कुशलक्षेम की पल-पल की अपडेट ले रहे हैं | बुधवार को एक कार्यक्रम में इंदौर, मध्य प्रदेश में होने के बावजूद मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी कमिश्नर गढ़वाल तथा आईजी गढ़वाल से निरंतर संपर्क में हैं तथा सिल्क्यारा में संचालित हो रहे रेस्क्यू ऑपरेशन की निरंतर अपडेट ले रहे हैं |

यह भी पढ़ें -  देहरादून में 10 वर्षीय बच्चे को निवाला बनाने वाले गुलदार को मारने के आदेश

इसके साथ ही राहत एवं बचाव के कार्यों में लगी एजेंसियों से भी मुख्यमंत्री हर पल की अपडेट ले रहे हैं। मुख्यमंत्री ने युद्ध स्तर पर चल रहे रेस्क्यू ऑपरेशन के लिए संबंधित अधिकारियों एवं राहत एवं बचाव एजेंसियों का हौसला बढ़ाया | मुख्यमंत्री श्री धामी ने कहा कि आज हमारे समक्ष बड़ी चुनौती आ खड़ी हुई है जिसका सामना हमें पूरी हिम्मत, हौसले और धैर्य से सफलतापूर्वक करना है | राज्य सरकार, प्रशासन के साथ ही केंद्रीय एजेंसियों एवं केंद्र सरकार का हमें इसमें पूरा सहयोग मिल रहा है | केंद्र सरकार एवं केंद्रीय गृह मंत्री रेस्क्यू ऑपरेशन पर निरंतर निगरानी बनाए हुए हैं | आदरणीय प्रधानमंत्री जी ने स्वयं घटना एवं राहत एवं बचाव कार्यों की जानकारी ली है | गौरतलब है कि सिल्क्यारा पोलगांव निर्माणाधीन रोड टनल में भूस्खलन की घटना के बाद से ही मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने तत्काल मुख्यमंत्री आवास में शासन के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर निर्देश दिये कि मौके पर तैनात जिला प्रशासन के अधिकारियों एवं वहां पर कार्य कर रही एजेंसियों से निरन्तर समन्वय बनाकर रखें, राहत सामग्री की किसी भी प्रकार की आवश्यकता पड़ने पर, शीघ्र उपलब्ध कराई जाए।मुख्यमंत्री के निर्देश पर शासन द्वारा सिल्क्यारा सुरंग में हुए भूस्खलन के अध्ययन एवं कारणों की जांच के लिए निदेशक उत्तराखंड भूस्खलन न्यूनीकरण एवं प्रबंधन केंद्र की अध्यक्षता में गठित समिति में शामिल विशेषज्ञों ने स्थल का निरीक्षण कर जांच की कार्रवाई शुरू कर दी है। राहत एवं बचाव के कार्य तेजी से चल रहे हैं।

Continue Reading

More in उत्तराखंड

Like Our Facebook Page

Latest News

Author

Author: Shakshi Negi
Website: www.gairsainlive.com
Email: [email protected]
Phone: +91 9720310305