Connect with us

विधुत निगम लिमिटेड के उच्चाधिकारीयों व ठेकेदारो पर धोखाधड़ी, फर्जी दस्तावेज तैयार करने के मामलों में मुकदमें दर्ज

उत्तराखंड

विधुत निगम लिमिटेड के उच्चाधिकारीयों व ठेकेदारो पर धोखाधड़ी, फर्जी दस्तावेज तैयार करने के मामलों में मुकदमें दर्ज

वादी सविन्द्र कुमार आनन्द पुत्र स्व श्री राम आनन्द निवासी-1/1 पंजाब कॉलोनी, थाना विकासनगर जिला देहरादून ने एक प्रार्थना पत्र माननीय न्यायालय मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट देहरादून को अंतर्गत धारा 156 3 सीआरपीसी के तहत प्रेषित किया गया था जो विपक्षी गण

1. श्री पराग जैन पुत्र श्री एन0सी0जैन निवासी-लेन नम्बर 9 मकान नं० 240 मोहितनगर, देहरादून, उत्तराखण्ड .
2 श्री एम०एस० अधिकारी पी.सी.एम. डाकपत्थर, तहसील विकासनगर, जिला देहरादून.
3. श्री अरुण तोमर सहायक अभियन्ता यू.जे.वी.एन.एल. डाकपत्थर तहसील विकासनगर जिला देहरादून।
4. श्री अनूप चौहान जे.ई. (अवर अभियन्ता) यू.जे.वी.एन.एल. पी.सी. एम. डाकपत्थर, तहसील विकासनगर, जिला देहरादून।
5. श्री विनोद भाकुनी तत्कालीन अधिशासी अभियन्ता, सिविल पशु लोक बैराज उत्तराखण्ड जल विद्युत निगम ऋषिकेश।
द्वारा आपस में मिलीभगत करके सरकारी धन की बंदरबांट करने फर्जी कूट रचित दस्तावेज तैयार कर डाकपत्थर बैराज ऋषिकेश, पुरोला आदि जगहों पर कई ठेके/ निविदा पराग जैन के पक्ष में कर दी गई.

मैसर्स पराग जैन के हक में डाकपत्थर में भी निविदा स्वीकृत की गई जिसका नाम स्पेशल रिपेयर ऑफ बैराज ग्लेसिस डाउन स्ट्रीम ऑफ गेट एंड एलाइड वर्क एट डाउन स्ट्रीम ऑफ डाकपत्थर बैराज देहरादून जो कि निविदा में लगभग 6 करोड़ 87 लाख मैं ठेका दिया गया जिसका समय कार्य पूरा करने का 1 वर्ष का था किंतु विभाग द्वारा पराग जैन को 9 करोड़ 30 लाख का भुगतान कर दिया गया एंव संपूर्ण काम मात्र 21 दिन में पूर्ण कर दर्शाया गया है उपरोक्त प्रकरण में माननीय न्यायालय मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट महोदय देहरादून के आदेश के अनुपालन में आज कोतवाली विकासनगर पर धारा 420 467 468 471 120 बी आईपीसी के तहत अभियोग पंजीकृत किया गया अभियोग की विवेचना उप निरीक्षक प्रदीप रावत द्वारा संपादित की जा रही है.

Continue Reading
Click to comment
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

More in उत्तराखंड

Like Our Facebook Page

Latest News