Connect with us

हरिद्वार महाकुंभ व्यवस्थाओं से वैरागी अखाड़े के संत है भयंकर नाराज , मूल भूत सुविधाएं भी नही मिल रही संतो को जानिये क्या नाराजगी प्रकट की संतो ने

उत्तराखंड

हरिद्वार महाकुंभ व्यवस्थाओं से वैरागी अखाड़े के संत है भयंकर नाराज , मूल भूत सुविधाएं भी नही मिल रही संतो को जानिये क्या नाराजगी प्रकट की संतो ने

हरिद्वार: बैरागी संतों ने जिलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के सामने बैरागी कैंप में अव्यवस्थाओं…

हरिद्वार: बैरागी संतों ने जिलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के सामने बैरागी कैंप में अव्यवस्थाओं पर रोष जताया। उन्होंने कहा कि कुंभ मेला अपने चरम पर है। शाही स्नान की तिथि आने में महज 20 दिन रह गए हैं, ऐसे में इन इंतजामों का न होना संतों के आक्रोश का कारण बन रहा है।
बैरागी संत बड़ी संख्या में हरिद्वार पहुंच रहे हैं। परंतु मेला प्रशासन की व्यवस्था अब भी ना के बराबर है। निर्मोही अणि के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमहंत राजेंद्र दास ने कहा कि बैरागी कैंप में संतों के लिए कोई व्यवस्था नहीं की गई। सभी संतों के साथ उनके श्रद्धालु भक्त भी हजारों की संख्या में आते हैं ना तो कैंपों में शौचालय की व्यवस्था की गई है ना ही पीने के पानी की कोई समुचित व्यवस्था है। सड़कों का भी कोई रखरखाव नहीं है। संतों को भूमि आवंटन का मामला अभी तक उलझा हुआ है। मेला प्रशासन अतिक्रमण हटा संतों को भूमि आवंटित नहीं कर रहा है। उन्होंने कहा कि प्रशासन जल्द से जल्द अतिक्रमण हटाए और संतों को भूमि आवंटित करें। निर्वाणी अणि अखाड़ा के श्रीमहंत धर्मदास महाराज ने कहा कि बैरागी कैंप में दो भाग हैं, एक हमारे पास है, दूसरे में अतिक्रमण करा हुआ है, जिसे मेला प्रशासन को जल्द से जल्द हटवाकर संतों को भूमि आवंटित करानी चाहिए।
उन्होंने बताया कि 2 अप्रैल तक तीन हजार शौचालय बनाए जाएंगे। पीडब्ल्यूडी ने भी बताया है कि सड़कों का कार्य भी तीन-चार दिन के अंदर पूरा हो जाएगा। जिलाधिकारी ने कहा कि आज वह संतों के बीच में आए और उनकी समस्या को जाना। मेला प्रशासन से भी इस बात पर चर्चा की जाएगी। जिला प्रशासन से जो भी सहयोग मेला प्रशासन मांगता है, वह दिया जाएगा। जल्द ही संतों की समस्याओं का निवारण करते हुए सभी को भूमि आवंटित कराई जाएगी।
इस अवसर पर निर्मोही अखाड़ा के श्रीमहंत राजेंद्र दास, रामजी दास अहमदाबाद जगन्नाथ ट्रस्ट के महंत महेंद्र भाई झा, निर्वाणी अखाड़ा के श्रीमहंत धर्मदास, गौरी शंकर दास, प्रहलाद दास, जबकि प्रशासन की ओर से वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सेंथिल अवुदई कृष्णराज, सीओ सिटी अभय प्रताप सिंह आदि मौजूद थे।

2 Views
Continue Reading
Click to comment
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

More in उत्तराखंड

Like Our Facebook Page

Latest News