Connect with us

RTO कार्यालय में विजिलेंस का छापा, 2200 की रिश्वत लेते धरा एआरटीओ ऑफिस के प्रधान सहायक

उत्तराखंड

RTO कार्यालय में विजिलेंस का छापा, 2200 की रिश्वत लेते धरा एआरटीओ ऑफिस के प्रधान सहायक

उत्तराखंड में विजिलेंस की टीम ने शुक्रवार को रामनगर के आरटीओ ऑफिस में कार्रवाई की। यहां विजिलेंस की टीम ने एआरटीओ ऑफिस के प्रधान सहायक को 2200 की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। आरोप है कि प्रधान सहायक के पद पर कार्यरत ललित मोहन आर्या एक ई रिक्शा के रजिस्ट्रेशन के बदले रिश्वत की मांग कर रहा था। ‌जिसकी शिकायत ई रिक्शा मालिक की तरफ से विजिलेंस में की गई।

इसके बाद विजिलेंस ने पूरे मामले की जांच की। विजिलेंस की गुप्त जांच में शिकायत ठीक पाई गई। इसके बाद विजिलेंस की टीम ने शनिवार को एआरटीओ दफ्तर में छापेमारी की। ‌ जिसमें आरोपी कर्मचारियों को रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार हो गया। विजिलेंस की ओर से जारी जानकारी में बताया गया है शिकायतकर्ता की शिकायत पर सतर्कता अधिष्ठान सैक्टर हल्द्वानी द्वारा गोपनीय जांच किये जाने पर प्रथम दृष्टया सही पाये जाने पर तत्काल ट्रैप टीम का गठन किया गया, जिनके द्वारा आज आरोपी ललित मोहन आर्या, प्रशासनिक अधिकारी, एआरटीओ कार्यालय रामनगर को शिकायतकर्ता से 2200 रुपए रिश्वत लेते हुए रंगेहाथ गिरफ्तार किया गया।

यह भी पढ़ें -  CS राधा रतूड़ी ने ऋषिकेश में चारधाम यात्रा का लिया फीडबैक, ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन व्यवस्था विकसित करने के दिए निर्देश

आरोपी से पूछताछ जारी है, मामले में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अन्तर्गत प्रकरण दर्ज कर अग्रिम अनुसंधान किया जायेगा। निदेशक सतर्कता द्वारा ट्रैप टीम को नकद पुरुस्कार की घोषणा की गयी। साथ ही अपील की है कि आप से भी कोई सरकारी अधिकारी या चुनाव हुआ जनप्रतिनिधि किसी काम के बदले रिश्वत मांगे तो आप तुरंत शिकायत करें। विजिलेंस का टोल-फ्री हैल्पलाईन न0 1064 एवं Whatsapp हैल्पलाईन नं. 9456592300 चौबीस घंटे आपकी मदद के लिए खुला रहता है। ‌

Continue Reading

More in उत्तराखंड

Like Our Facebook Page

Latest News

Author

Author: Shakshi Negi
Website: www.gairsainlive.com
Email: [email protected]
Phone: +91 9720310305