Connect with us

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत की मुहिम लाई रंग, फिल्म निर्माताओं को खींच रही उत्तराखंड की खूबसूरती

उत्तराखंड

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत की मुहिम लाई रंग, फिल्म निर्माताओं को खींच रही उत्तराखंड की खूबसूरती

देहरादून। राज्य में फिल्म उद्योग को बढ़ावा देने के लिए मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत के नेतृत्व में तेजी से कार्य किया जा रहा है। एवं एकल खिड़की के माध्यम से शूटिंग के लिए सभी सुविधाएं दी जा रही हैं। जिसका नतीजा यह है कि उत्तराखण्ड तेजी से फिल्म हब के रूप में विकसित हो रहा है। आज बाॅलीवुड से लेकर दक्षिण भारत से भी निर्माता यहां आकर शूटिंग कर रहे हैं। उत्तराखंड की फिल्म नीति में अनेक आकर्षक सुविधाएं दी जा रही है जिसका नतीजा यह है कि शूटिंग के लिये फिल्म निर्माता निर्देशकों की पहली पसंद उत्तराखंड बनता जा रहा है। उत्तराखंड फिल्म विकास परिषद के नोडल अधिकारी केएस चैहान इसका श्रेय राज्य की फिल्म नीति को देते हैं।

फिल्म निर्माताओं को खींच रही उत्तराखंड की खूबसूरती
नैसर्गिक सौंदर्य से भरपूर उत्तराखंड की वादियां फिल्मों की शूटिंग के लिए एक बड़ा बाजार बन सकती है। राज्य में फिल्म की शूटिंग के लिए लोकेशन की अपार विविधता है। बॉलीवुड के फिल्म निर्माताओं को अब उत्तराखंड की खूबसूरती अपनी ओर खींचती जा रही है। अब फिल्म निर्माता-निर्देशक भी उत्तराखंड को फिल्म शूटिंग के हिसाब से एक बेहतर डेस्टिनेशन के तौर पर देख रहे हैं और उत्तराखंड आ भी रहे हैं। अब तक कई निर्माता-निर्देशक उत्तराखंड के कई लोकेशन में अपनी फिल्में शूट कर चुके हैं।

यह भी पढ़ें -  Big breaking:- रुड़की के लंढौरा क्षेत्र के गाधारोणा गांव में डेंगू का कहर स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया।

हर्षिल में शूट हुई राम तेरी गंगा मैली फिल्म आज तक भी दर्शकों की पसंदीदा फिल्म रही है और इस फिल्म में फिल्माए गए उत्तराखंड के खूबसूरत नजारों को बयां करते दृश्य हर किसी का मन मोह लेते हैं। उत्तराखंड प्राकृतिक सुंदरता से भरपूर है और यहां ऐसे बहुत से अनछुए लोकेशन है जो अभी तक भी फिल्म मेकर्स के कैमरे में कैद नहीं हो पाए हैं। राज्य सरकार की कोशिश है कि उत्तराखंड की खूबसूरत वादियों को भी फिल्म शूटिंग के लिए फिल्मेकर्स की पसंदीदा जगह बनाया जाए जैसे कि स्विजरलैंड है। फिल्म निर्माताओं का उत्तराखंड का रूख करने से स्थानीय स्तर पर भी रोजगार के अवसर बढ़ेंगे और युवाओं को रोजगार भी मिल सकेगा।

कोरोना काल में भी 60 से अधिक शूटिंग के आवेदन
कोविड महामारी के इस दौर में अभी तक उत्तराखंड सरकार के पास फिल्म, वीडियो और विज्ञापन की शूटिंग के लिए 60 से अधिक आवेदन पहुंचे। उत्तराखंड फिल्म विकास परिषद के मुताबिक, परिषद को हर दिन शूटिंग के दो आवेदन प्राप्त हो रहे हैं। राज्य की लोकेशन में फिल्म निर्माताओं की बढ़ रही इस रुचि से प्रदेश सरकार भी उत्साहित है।

यह भी पढ़ें -  Big breaking:-चारो धामों में जमकर हो रही बर्फबारी , मौसम विभाग की भविष्यवाणी सही हुई साबित देखिए वीडियो

शाहिद कपूर व मृणाल ठाकुर ने ट्वीटर पर जताया आभार
बालीवुड के मशहूर अभिनेता शाहिद कपूर और अदाकारा मृणाल ठाकुर ने उत्तराखंड की लोकेशन पर शूटिंग के अनुभव को ट्विटर पर साझा किया। अपनी यह खुशी उन्होंने ट्विटर पर संदेश के जरिए बयान की। वे यहां जर्सी फिल्म की शूटिंग के सिलसिले में पिछले करीब 15 दिनों से हैं। उन्होंने शूटिंग कराने में सहयोग के लिए उत्तराखंड सरकार का आभार व्यक्त किया।

सुनिए क्या कहते हैं उत्तराखंड फिल्म विकास परिषद के नोडल अधिकारी केएस चैहान
उत्तराखंड फिल्म विकास परिषद के नोडल अधिकारी केएस चैहान कहते हैं लॉकडाउन के दौरान परिषद के पास फिल्मों, विज्ञापनों, म्यूजिक वीडियो, वेबसीरीज, गढ़वाली व अन्य क्षेत्रीय भाषाओं के गानों की शूटिंग के लिए 61 आवेदन प्राप्त हुए। औसतन हर दिन दो आवेदन हमें प्राप्त हो रहे हैं। पिछले तीन सालों में उत्तराखंड सरकार ने फिल्म निर्देशकों का विश्वास जीता है। उत्तराखंड फिल्म शूटिंग का नया डेस्टिनेशन बन रहा है।

यह भी पढ़ें -  Big news :-सीएम ने जिलो से ली आपदा की जानकारी , यहाँ छप्पर गिरने से 3 की मौत 2 घायल

उत्तराखंड फिल्म विकास परिषद के नोडल अधिकारी केएस चैहान इसका श्रेय राज्य की फिल्म नीति को देते हैं। केएस चैहान कहते हैं नीति में कई तरह के प्रोत्साहन हैं और मुख्यमंत्री व राज्य सरकार के अधिकारियों की ओर से फिल्म जगत में यह भरोसा जगाया गया है कि उत्तराखंड की लोकेशन में शूटिंग के लिए अनुकूल वातावरण उपलब्ध कराया जाएगा। प्रदेश सरकार ने 20 मई को फिल्म शूटिंग को लेकर एसओपी जारी की थी। इसके बाद फिल्मकारों ने उत्तराखंड का तेजी से रुख किया।

ये हैं फिल्मकारों के आकर्षण की वजह
– राज्य की लोकेशन में 75 प्रतिशत फिल्म की शूटिंग पर डेढ़ करोड़ की सब्सिडी है….
– गढ़वाली और कुमाऊंनी भाषा की फिल्मों के लिए यह अनुदान 20 लाख रुपये है….
– शूटिंग के दौरान फिल्म यूनिट को पर्यटन विभाग व सरकारी गेस्ट हाउस में 50 प्रतिशत की रियायत है…
– उत्तराखंड में फिल्म प्रदर्शन पर टिकट पर 30 प्रतिशत जीएसटी का लाभ….
– शूटिंग के दौरान पांच पुलिस के जवान निशुल्क उपलब्ध कराए जाते हैं….

Continue Reading
Click to comment
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

More in उत्तराखंड

Like Our Facebook Page

Latest News