Connect with us

देर रात यहां बादल फटने से मची तबाही, काली नदी खतरे के निशान से ऊपर

उत्तराखंड

देर रात यहां बादल फटने से मची तबाही, काली नदी खतरे के निशान से ऊपर

पिथौरागढ़ धारचूला के खोतिला में बादल फटने से भारी तबाही। तल्ला खोतिला गाँव मे हुआ जलभराव। 1 महिला लापता, रेस्क्यू अभियान हुआ शुरू। काली नदी खतरे के निशान के ऊपर पहुँची। धारचूला मल्ली बाजार में भारी बारिश से हुआ नुकसान। नेपाल के लास्कु इलाके में भी बादल फटने से भारी नुकसान। अनेक घर हुए जमीदोंज।

भारत नेपाल सीमा का निर्धारण करने वाली काली नदी में बीती रात अचानक पानी बढ़ गया जिसकी वजह से धारचूला और उसके आसपास के गांवों में बसे लोगो के घर जलमग्न हो गए और कई मकान ताश के पत्तो की तरह ढहकर नदी में समा गए। मिली जानकारी के मुताबिक काली नदी में पहाड़ी से टूटकर एक बड़ा बोल्डर आ गिरा था।

यह भी पढ़ें -  वख्फ बोर्ड अध्यक्ष शादाब शम्स ने दिया बड़ा बयान, पिरान कलियर बन गया सेक्स रैकेट का अड्डा

जिस वजह से पानी का बहाव रुक गया, और नदी में बोल्डर के पीछे की ओर पानी इक्कठा होने लगा, कुछ समय बाद जब बोल्डर पर प्रेशर पड़ा तो बोल्डर हट गया और इक्कठा हुआ पानी बाढ़ में तब्दील हो गया, जलस्तर बढ़ने से तेज़ रफ़्तार और भारी मात्रा में नदी का पानी बहने लगा जिसकी वजह से काली नदी के किनारे बसे गांवो के घरों को खासा नुकसान हुआ है। धारचूला के ग्वालगांव में तबाही का मंजर नज़र आ रहा है हर जगह मलबा भर गया है गाड़िया मोटरसाइकिल मलबे में दब गई। नेपाल के खोतिला गांव में भी नदी के बढ़े हुए जलस्तर से आपदा आ गयी इमारतें भरभरा कर नदी में समागयीं। फिलहाल जानमाल के नुकसान की कोई खबर नही है।

Continue Reading
Click to comment
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

More in उत्तराखंड

Like Our Facebook Page

Latest News

Author

Author: Shakshi Negi
Website: www.gairsainlive.com
Email: [email protected]
Phone: +91 9720310305