Connect with us

इस महीने तैयार हो जाएगी केदारपुरी में तीन ध्यान गुफाएं, श्रद्धालुओं को होगी सुविधा

उत्तराखंड

इस महीने तैयार हो जाएगी केदारपुरी में तीन ध्यान गुफाएं, श्रद्धालुओं को होगी सुविधा

उत्तराखंड : राज्य में केदारनाथ धाम से करीब डेढ़ किमी दूर पहाड़ी पर साधकों की सुविधा के लिए तीन ध्यान गुफाएं लगभग बनकर तैयार हो गई हैं। इस महीने अक्टूबर के आखिर से इन गुफाओं को ध्यान-साधना के उपयोग में लाया जा सकेगा। जबकि, एक गुफा पिछले साल 2019 में तैयार कर ली गई थी, जिसमें 18 मई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ध्यान लगाया था। इसके साथ ही अब तक केदारपुरी में कुल चार ध्यान गुफाएं तैयार हो चुकी हैं। इनमें यात्री ध्यान-साधना के साथ ही रात में आराम भी कर सकते हैं।
इन गुफाओं का निर्माण जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) की लोनिवि शाखा द्वारा किया जा रहा है। केदारपुरी में समुद्रतल से 13 हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित इन प्राकृतिक गुफाओं को प्रधानमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट के तहत सुविधा-संपन्न बनाया जा रहा है।
बीते साल केदारनाथ मंदिर के बायें ओर की पहाड़ी पर तैयार एक गुफा तब देश-दुनिया में चर्चा का विषय बन गई थी, जब लोकसभा चुनाव के परिणामों से पहले प्रधानमंत्री ने यहां ध्यान लगाया था। इसी को देखते हुए सरकार ने यहां तीन और गुफाओं का निर्माण कराया है।
इस बारे में डीडीएमए लोनिवि के अधिशासी अभियंता प्रवीण कर्णवाल ने बताया कि इन गुफाओं के संचालन का जिम्मा गढ़वाल मंडल विकास निगम (जीएमवीएन) को सौंपा गया है। अधिक ऊंचाई पर होने के कारण इन गुफाओं में उसी व्यक्ति को प्रवेश दिया जाता है, जिसे स्वास्थ्य संबंधी कोई दिक्कत न हो।
राज्य सरकार की ओर से चारधाम यात्रा को मिली छूट के बाद केदारनाथ धाम में श्रद्धालुओं की भीड़ आना शुरू हो गई है। बीते एक हफ्ते से हे रोज दो हजार के आसपास या इससे अधिक यात्री केदारनाथ पहुंच रहे हैं।
पहले यात्री पैदल और घोड़ा-खच्चर से ही बाबा के दर्शनों को पहुंच रहे थे, लेकिन शुक्रवार से धाम के लिए हेली सेवा भी शुरू हो चुकी है। इससे श्रद्धालुओं की संख्या में और इजाफा हुआ है। कोरोना संक्रमण के चलते जहां अब तक पर्यटन व तीर्थाटन पूरी तरह बंद हो चुका था, वहीं श्रद्धालु व पर्यटकों की संख्या बढ़ने से अब यहां के स्थानीय व्यवसायियों के चेहरे भी खिल उठे हैं

 

Continue Reading
Click to comment
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

More in उत्तराखंड

Like Our Facebook Page

Latest News